स्नातक सत्र 2019-22 में गलत परीक्षा फार्म भरने के कारण सैकड़ों विद्यार्थियों का परिणाम होगा पेंडिंग, कालेजों ने बरती लापरवाही, जाने पुरा मामला

स्नातक सत्र 2019-22 में गलत परीक्षा फार्म भरने के कारण सैकड़ों विद्यार्थियों का परिणाम होगा पेंडिंग, कालेजों ने बरती लापरवाही, जाने पुरा मामला

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक सत्र 2019-22 में परीक्षा फार्म में गलत विषय का विकल्प देने से सैकड़ों विद्यार्थियों का परिणाम पंडिग हो जाएगा। गुरुवार को इलेक्ट्रानिक्स की परीक्षा थी। जुलाजी, बाटनी और रसायनशास्त्र के सैकड़ों विद्यार्थियों ने वैकल्पिक विषय के रूप में इसका चयन कर लिया था, जबकि इन तीनों विषय के विद्यार्थियों को इलेक्ट्रानिक्स नहीं लेना था। परीक्षा केंद्र पर काफी संख्या में छात्र एडमिट कार्ड लेकर पहुंचे और परीक्षा से शुरू होने वाली मी तो प्रश्नपत्रों की संख्या कम देख केंद्राधीक्षक परेशान हो गए।

परीक्षा नियंत्रक डा. संजय कुमार को इसकी जानकारी दी। साथ ही मार्गदर्शन मांगा

उन्होंने परीक्षा नियंत्रक डा. संजय कुमार को इसकी जानकारी दी। साथ ही मार्गदर्शन मांगा। परीक्षा नियंत्रक ने उन्हें बताया कि इन तीनों विषय के विद्यार्थियों को इलेक्ट्रानिक्स वैकल्पिक के तौर पर नहीं लेना था। फार्म भरने के दौरान छात्र-छात्राओं ने यह गलती की। वहीं कालेज की ओर से भी इसपर ध्यान नहीं दिया गया। सत्यापन के समय यदि यह मामला सामने आ जाता तो इसमें सुधार कराया जा सकता था। अब ऐसे विद्यार्थियों का परिणाम पेंडिग हो जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे परीक्षार्थियों को अगली परीक्षा में वैकल्पिक पेपर बदलकर शामिल होना पड़ेगा

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojan: बिहार सरकार स्नातक पास छात्राओं को 50 हजार रुपये, 12 वीं कक्षा पास करने वालों को 25 हजार रुपये देगी , जल्द करें यहाँ से ऑनलाईन आवेदन

कॉलेजों ने परीक्षा फॉर्म ठीक से वेरीफाई किया होता तो पहले ही हो जाता सुधार

छात्रों ने गलत परीक्षा फॉर्म तो भरा ही, लेकिन कॉलेजों ने इसे ठीक से वेरीफाई किया होता तो इसमें सुधार हो जाता। विवि की ओर से ऑनलाइन भरे गए परीक्षा फॉर्म में एडिट के लिए लॉग इन पासवर्ड भी केंद्राधीक्षकों को दिया हुआ है। उन्हें ऑनर्स का विषय और कॉलेज में बदलाव को छोड़ कर अन्य त्रुटियों में सुधार का अधिकार है। फॉर्म भरने के बाद कॉलेजों को आवेदन वेरीफाई कर विवि भेजना होता है। इसके लिए प्रति छात्र मानदेय भी दिया जाता है। फिर भी छात्रों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है।

केंद्राधीक्षकों ने विश्वविद्यालय को दी जानकारी, इसके बाद सामने आया पूरा मामला, स्नातक पार्ट वन की परीक्षा नियंत्रक बोले- अब विषय बदलकर देना होगा पेपर।

Post Matric Scholarship Bihar: ऑनलाइन आवेदन की तिथि 30 नवंबर तक बढ़ी, छात्र-छात्राएं यहाँ से करें अप्लाई

सभी छात्र छात्रा ध्यान दें, पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए सत्र 2019-20 और 2020-21 का रजिस्ट्रेशन 31 अक्टूबर 2021 तक ही होगा।
सिर्फ 2021-22 सत्र के लिए 30 नवंबर 2021 तक तिथि बढ़ाया गया है।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BRABU : आज जारी होगा स्नातक सत्र 2021-24 के पार्ट- 1 परीक्षा का शेड्यूल, 18 अक्टूबर से शुरू होगी परीक्षा, यहां पढ़ें लेटेस्ट अपडेट

BRABU : आज जारी होगा स्नातक सत्र 2021-24 के पार्ट- 1 परीक्षा का शेड्यूल, 18 अक्टूबर से शुरू होगी परीक्षा, यहां पढ़ें लेटेस्ट अपडेट

BRABU TDC Part 1 Exam 2022 Schedule: कोरोना काल में पिछड़ा बिहार यूनिवर्सिटी का सेशन अब समय पर आने लगा है। स्नातक पार्ट वन 2022...