Breaking News : पटना यूनिवर्सिटी में कोरोना विस्फोट जाने क्या है पुरा मामला

Breaking News : पटना यूनिवर्सिटी में कोरोना विस्फोट जाने क्या है पुरा मामला

बिहार की राजधानी पटना में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। यहां लगातार दूसरे दिन एक हजार से ज्यादा कोविड-19 पेशेंट मिले हैं। इस बीच पटना यूनिवर्सिटी(PU) के कुलपति गिरीश कुमार चौधरी के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद कैंपस में दहशत फैल है। पीयू के डीन सह मीडिया प्रभारी प्रो. एनके झा ने एंटीजन किट की जांच में कुलपति के संक्रमित होने की बात कही है। एक-दो दिन में उनकी आरटी पीसीआर की रिपोर्ट आ जाएगी।

कुलपति के कोरोना संक्रमित होने की सूचना के बाद उधर मगध महिला कॉलेज के दो और पटना साइंस कॉलेज के एक प्रोफेसर ने भी अपनी कोविड -19 जांच करवाई है। घटना के बाद, छात्रों को उनकी आने वाली परीक्षाओं और छात्रावास के छात्रों की स्वास्थ्य सुरक्षा पर चिंता हो रही है।

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ के उपाध्यक्ष निशांत कुमार ने पटना में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच छात्रों की भलाई पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि-हम ऐसे सभी छात्रों और कर्मचारियों के कोविद -19 परीक्षण की मांग करते हैं जो पिछले तीन दिनों में वीसी के निकट संपर्क में आए। वहीं प्रशासन को ऐसे लोगों की पहचान करनी चाहिए और जल्द से जल्द कोविड-19 परीक्षण करना चाहिए, अन्यथा वे वायरस फैलाएंगे। उन्होंने छात्रों की स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए परीक्षा स्थगित करने की भी मांग की।

बता दें कि पीयू ने 27 अप्रैल से थर्ड सेमेस्टर के छात्रों की फाइनल परीक्षा निर्धारित की है। उधर पीयू अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए कोविड-19 निवारक उपायों को बढ़ाया है।

पीयू के रजिस्ट्रार कर्नल मनोज मिश्रा ने कहा, हमने उन कर्मचारियों से बात की है जिनमें कोविड -19 के हल्के लक्षण दिखे हैं। कहा कि हम सभी कर्मचारियों के परीक्षण के लिए जिला प्रशासन के साथ तालमेल कर रहे हैं। कहा कि हमने विश्वविद्यालय परिसर को पूरी तरह से सैनिटाइज्ड कर दिया है। इसके अलावा सुरक्षाकर्मियों को निर्देश दिया है कि कैंपस में आने वाले सभी प्रवेशकों को फेस मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना सुनिश्चित करने के लिए सतर्क हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत, हमने पहले ही सामान्य विजिटरों के कैंपस में प्रवेश को प्रतिबंधित कर चुके हैं। वहीं प्रोफेसरों और कर्मचारियों के लिए काम के घंटे कम किए जाएंगे।

रजिस्ट्रार ने कहा कि पीयू ने अपने छात्रों को पहले ही कॉलेज के परिसरों में फिजिकली जाने के बजाय ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने का निर्देश दिया है। फाइनल इयर की परीक्षा के बारे में निर्णय के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हम तीसरे वर्ष के छात्रों की अंतिम परीक्षा को एक सप्ताह या 10 दिनों के लिए स्थगित करने पर विचार कर रहे हैं। हालांकि, अभी अंतिम फैसला नहीं लिया गया है।

हाल ही में, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, पटना (IIT-P) के संक्रमित छात्रों की सख्या बढ़कर 27 पर पहुंच गई है। रविवार को पांच और छात्रों की जांच रिपोर्ट में उन्हें कोविड पॉजिटिव पाया गया है। संस्थान में पांच नए मामले मिलने के बाद छात्रों की चिंता बढ़ी है।इस बीच, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय और नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी ने भी बढ़ते कोविद -19 मामलों के मद्देनजर 18 अप्रैल तक नियमित कार्य के लिए छात्रों और अभिभावकों के प्रवेश को प्रतिबंधित कर दिया है।

Rn college Telegram group – Click here

Rn college Facebook group – Click here

Bihar University info – Click here

Patna Women’s College Admission 2022 : पटना वीमेंस कॉलेज के नामांकन फॉर्म अब 20 जून तक भरे जाएंगे, यहाँ से करें आवेदन

Patna Women’s College Admission 2022 : पटना वीमेंस कॉलेज के नामांकन फॉर्म अब 20 जून तक भरे जाएंगे, यहाँ से करें आवेदन

Patna Women's College Admission 2022 : पटना वीमेंस कॉलेज में नए सत्र के नामांकन के लिए अब 20 जून तक ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरे जाएंगे।...