बिहार यूनिवर्सिटी मे पीजी रिजल्ट के लिए ढाई घंटे तक छात्रों का बवाल, यहाँ जाने प्रति कुलपति ने क्या कहा

बिहार यूनिवर्सिटी मे पीजी रिजल्ट के लिए ढाई घंटे तक छात्रों का बवाल, यहाँ जाने प्रति कुलपति ने क्या कहा

पीजी थर्ड सेमेस्टर का रिजल्ट जारी करने की मांग को लेकर छात्रों ने गुरुवार को बीआरए बिहार विवि में ढाई घंटे तक बवाल किया। छात्र पहले प्रति कुलपति प्रो. रवींद्र कुमार के चेंबर में पहुंचे और वहां हंगामा करना शुरू कर दिया। करीब एक घंटे तक छात्र प्रोवीसी के चेंबर में डटे रहे और परीक्षा नियंत्रक को हटाने की मांग करते रहे।

BSEB Scholarship : इंटर पास छात्राओं के खाते में जल्द जारी की जाएगी मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की राशि, यहाँ जाने जाने कब जारी होगी राशि : Zee Bihar

छह महीने के सेमेस्टर का रिजल्ट नौ माह से अटका

प्रति कुलपति के समझाने के बाद भी प्रदर्शनकारी छात्र मानने को तैयार नहीं थे। हंगामा-बवाल में छात्राएं भी शामिल थीं। छात्रों का कहना था कि छह महीने के सेमेस्टर का रिजल्ट नौ माह से अटका हुआ है। इस दौरान छात्रों की प्रोवीसी से नोकझोंक भी हुई।

सुबह 10 बजे से ही विवि परिसर में छात्र जुटने लगे थे। इनमें कई छात्र स्नातक पार्ट वन और पार्ट टू में प्रमोटेड थे। उनका कहना कि जब तक उन्हें पार्ट थ्री के परीक्षा फॉर्म भरने की इजाजत नहीं मिलेगी वह यहां से नहीं जाएंगे।

Post Matric Scholarship Bihar: ऑनलाइन आवेदन की तिथि 30 नवंबर तक बढ़ी, छात्र-छात्राएं यहाँ से करें अप्लाई

परीक्षा नियंत्रक ने छात्रों को समझाकर कर वापस भेजा

इस बीच परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार के यूनिवर्सिटी पहुंचते ही कई छात्र उनके कमरे में पहुंच गये। वहां परीक्षा नियंत्रक ने उन्हें समझाकर वापस भेज दिया। इसके बाद पीजी थर्ड सेमेस्टर के छात्र प्रोवीसी के चेंबर में पहुंच गये और हंगामा करने लगे।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

बिहार यूनिवर्सिटी के पांच लाख से अधिक विद्यार्थियों को डिग्री देने के लिए मंजूरी मिल गई है। राजभवन की ओर से इसको लेकर स्वीकृति मिलने...