मांग पूरी न होने पर बिहार यूनिवर्सिटी में कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन, यहाँ जाने कौन-कौन सी मांग के लिए किया गया प्रदर्शन

मांग पूरी न होने पर बिहार यूनिवर्सिटी में कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन, यहाँ जाने कौन-कौन सी मांग के लिए किया गया प्रदर्शन

बीआरए बिहार कर्मचारी संघ ने गुरुवार को 10 सूत्री मांगों को लेकर विश्वविद्यालय में प्रदर्शन किया। संघ ने विवि प्रशासन पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। कहा कि बीते 10 मार्च को संघ और विवि अधिकारियों के बीच वार्ता हुई थी, उसमें जो आश्वासन दिए गए, उसका पालन नहीं किया गया।

अधिकारी नारेबाजी करते हुए रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंचे

प्रदर्शन से पहले संघ की बैठक हुई। इसमें कार्ययोजना पर विचार किया गया। बैठक के बाद संघ के अधिकारी नारेबाजी करते हुए पहले रजिस्ट्रार कार्यालय और उसके बाद प्रति कुलपति के कार्यालय के पास पहुंचे। संघ के सचिव गौरव कुमार ने बताया कि विवि प्रशासन मनमाना रवैया अपना रही है।

BSEB 10th 12th Exam Shedule 2022: बिहार बोर्ड मैट्रिक और इंटरमीडिएट 2022 परीक्षा की तिथि जारी, यहां देखें परीक्षा का पूरा शेड्यूल

कर्मियों के मानदेय भुगतान आदि की मांग

हमारी मांगों पर अब तक कोई विचार नहीं किया गया। हमलोगों ने नौ महीने पहले ही मांग पत्र दिया था। सचिव ने बताया कि कर्मचारी संघ तृतीय व चतुर्थ वर्ग के कर्मचारियों के प्रमोशन, न्यूनतम वेतन भोगियों का सेवा सामंजन, तृतीय व चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों का वेतन निर्धारण, यूनिवर्सिटी के महिला छात्रावास में काम कर रही कर्मियों के मानदेय भुगतान आदि की मांग कर रहा है।

स्नातक उत्तीर्ण साढ़े 53 हजार छात्राओं को मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना राशि जल्द, यहाँ जाने कब जारी होगी ये प्रोत्साहन राशि

आमसभा बुलाकर हड़ताल पर जाएंगे

अगर इसे जल्द पूरा नहीं किया गया तो हम आमसभा बुलाकर हड़ताल पर जाएंगे। मौके पर संघ के अध्यक्ष राम कुमार, कोषाध्यक्ष विकास मिश्रा, उपाध्यक्ष अजय कुमार, सहायक सचिव सुरेश कुमार और इंद्रसेन थे।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

बिहार यूनिवर्सिटी के पांच लाख से अधिक विद्यार्थियों को डिग्री देने के लिए मंजूरी मिल गई है। राजभवन की ओर से इसको लेकर स्वीकृति मिलने...