बिहार यूनिवर्सिटी परिसर मे PG 3rd सेमेस्टर के छात्र ने किया आत्मदाह का प्रयास, यहाँ जाने कारण

बिहार यूनिवर्सिटी परिसर मे PG 3rd सेमेस्टर के छात्र ने किया आत्मदाह का प्रयास, यहाँ जाने कारण

PG 3rd Semester: बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से पीजी तृतीय सेमेस्टर का परिणाम परीक्षा के आठ महीने बाद भी जारी नहीं होने से नाराज छात्र ने बुधवार को विवि परिसर में आत्मदाह का प्रयास किया. जैसे ही वह कैंपस में पहुंचा, उसकी गतिविधियों पर अन्य छात्रों को दिह हुआ धरनास्थल पर अभाविप के कार्यकर्ता धरने पर बैठे थे परिषद के यूनिवर्सिटी संयोजक केशरीनंदन शर्मा सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं ने दौड़ कर छात्र को पकड़ा और समझा-बुझाकर शांत किया।

छात्र ने कहा कि वह सत्र 2018- 20 का छात्र है, तीन वर्ष बीत गये और अबतक थर्ड सेमेस्टर का परिणाम नहीं आया, मार्च में ही परीक्षा हुई थी. उसका कहना था कि यूनिवर्सिटी के अधिकारियों ने सिस्टम को मजाक बनाकर रख दिया है छात्र-छात्राओं के भविष्य से यहां खिलवाड़ किया जा रहा है. तीन वर्ष से पीजी में ही है. इस कारण परिवार के सदस्यों से भी सुनने को मिल रहा है. मंगलवार को विवि में प्रदर्शन के दौरान भी इंसपेक्टर ऑफ कॉलेज डॉ प्रमोद कुमार के सामने छात्र आत्मदाह की धमकी दे रहे थे, तो उन्हें किसी तरह शांत किया. छात्र ने कहा कि दो दिन में रिजल्ट नहीं आया तो आंदोलन करेंगे.

RRB NTPC Result 2021: 1.26 करोड़ उम्‍मीदवारों ने दी है एप्लिकेशन फीस, यहाँ जाने बोर्ड कैसे करेगा रिफंड

PG 3rd Semester: पीजी के छात्रों का कहना है कि कोर्स दो वर्ष का है. नामांकन के बाद यदि पहले या दूसरे सेमेस्टर में कोई विद्यार्थी प्रमोटेड हो जाते हैं, तो तृतीय सेमेस्टर से पूर्व उसे पास कर लेना है, ऐसे में उन्हें अधिकतम एक वर्ष का अतिरिक्त समय दिया जाता है. यूनिवर्सिटी की ओर से सत्र 2018-20 में जिन विद्यार्थियों ने नामांकन लिया था, अबतक केवल दो सेमेस्टर ही पूरा हुआ है. ऐसे में अगले महीने तक यदि परीक्षा नहीं होती है तो उनके तीन वर्षों की मेहनत बेकार हो जायेगी. हालांकि यूनिवर्सिटी के अधिकारियों का कहना है कि यह सिर्फ प्रमोटेड की स्थिति में लागू होता है. विवि का सत्र विलंब से चल रहा है, इस कारण छात्रों की डिग्री विलंब होने पर भी मान्य होगी.

बिहार यूनिवर्सिटी की परीक्षा बोर्ड की बैठक में छात्रों ने जमकर किया हंगामा, यहाँ जाने रिजल्ट पेंडिंग को लेकर परीक्षा नियंत्रक ने क्या बताया

यूनिवर्सिटी परिसर में हुई घटना

० धरनास्थल पर बैठे एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने छात्र को रोका

० थर्ड सेमेस्टर का रिजल्ट आठ महीने

बाद भी नहीं निकलने आक्रोशित था तीन वर्षों में पूरा करना है कोर्स, पर वर्ष 2018-20 के थर्ड सेमेस्टर का अबतक नहीं निकला है रिजल्ट

स्नातक सत्र 2021-24 में नामांकन के लिए तीन दिनों के लिए फिर से खुला पोर्टल, यहाँ से करें आवेदन

नये पैटर्न पर आयेगा रिजल्ट पुराने पर हुआ मूल्यांकन

विश्वविद्यालय के सूत्रों का कहना है कि पीजी तृतीय सेमेस्टर का परिणाम नये पैटर्न के अनुसार जारी करना है. 45 फीसदी पासिंग मार्क तय किया गया है, यानी 70 में से 32 अंक आने पर ही छात्र पास होंगे. पहले 40 फीसदी अंक पर ही पास करना था, द्वितीय सत्र के परिणाम में विवि की ओर से यही गड़बड़ी हुई थी. चर्चा है कि इसी पैटर्न पर तृतीय सत्र का भी मूल्यांकन कर दिया गया. विश्वविद्यालय की ओर से इसे ठीक किया जा रहा है, जिससे विलंब हो रहा है।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

बिहार यूनिवर्सिटी के पांच लाख से अधिक विद्यार्थियों को डिग्री देने के लिए मंजूरी मिल गई है। राजभवन की ओर से इसको लेकर स्वीकृति मिलने...