CTET : परीक्षा से पहले प्रश्न पत्र वायरल

(हिंदी और बाल विकास का प्रश्न मैच होने का दावा) CTET परीक्षा से

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसइ) का सेंट्रल एलिजिबिलिटी टेस्ट (CTET) 2020 रविवार

को शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. लेकिन परीक्षा से पहले ही प्रश्न- पत्र वायरल हो गया. परीक्षा समाप्त होने के बाद जब प्रश्न-पत्रों का मिलना किया गया तो हिंदी और बाल विकास के सभी प्रश्न मैच हो रहे थे. इसके साथ कुछ अन्य सवाल भी वायरल प्रश्न-पत्र से मेल खा रहा था. कई परीक्षार्थियों ने कहा कि सुबह आठ बजे से प्रश्न-पत्र

कई व्हाट्सएप ग्रुप में फैलने लगा. हालांकि सीबीएसइ के अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं.



मैथ ने किया परेशान : परीक्षा में नकल रोकने के लिए काफी सख्ती बरती गयी थी. पहला पेपर सुबह 9:30

से 12 बजे हुआ. दूसरा पेपर 2:30 से 4:30 बजे शाम तक हुआ. परीक्षा का आयोजन 135 शहरों में हुआ.

इसके लिए पटना में 92 सेंटर बनाये गये थे. सीटेट एग्जाम देने वाले परीक्षार्थियों ने बताया कि पहले पेपर के 10 प्रतिशत सवाल थोड़े मुश्किल थे. https://epaper.prabhatkhabar.com/m5/2978630/PATNA-City/CITY#page/4/1

Over 22 lakh candidates appear in CTET January 2021

शिक्षा शास्त्र का पेपर आसान था, लेकिन मैथ परेशान करने वाला था. हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषा के

पेपर आसान थे. कई लोगों को शिक्षा शास्त्र के सवालों को हल करने में काफी वक्त लग गया. कुछ नेअंग्रेजी सेक्शन को भी कठिन बताया. सीटेट के पहले पेपर में बाल विकास और शिक्षा शास्त्र से 30 सवाल, पहली और दूसरी भाषा से 30-30 सवाल, गणित से 30 सवाल और पर्यावरण अध्ययन से 30 सवाल पूछे गये. CTET परीक्षा से

डिजिलॉकर में उपलब्ध होगा अंक और प्रमाणपत्र

अनुराग त्रिपाठी ने कहा कि सीटीइटी के अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए बोर्ड ने डिजिटल अंक पत्र और

पात्रता प्रमाण पत्र डिजिलॉकर के माध्यम से उपलब्ध कराने कीव्यवस्था की है.यह ‘हरित पहल’ की तरफ

बोर्ड का एक संकल्प है. इस वर्ष के परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों के डिजिलॉकर खाते बनाये जायेंगे और अभ्यर्थियों को खाता क्रेडेंशियल्स के बारे में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबरों पर सूचित किया जायेगा. क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके अभ्यर्थी अपने डिजिटल अंक -पत्र और पात्रता प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकेंगे. सुरक्षा को देखते हुए अंक-पत्र और प्रमाण- पत्र में एकएक्रिप्टेड क्यूआर कोड डाला जायेगा. डिजिलॉकर मोबाइल एप का उपयोग करके क्यूआर कोड को स्कैन और सत्यापित किया जा सकता है.CTET परीक्षा से

Over 22 lakh candidates appear in CTET January 2021
बिहार बोर्ड इंटर और मैट्रिक परीक्षा 2022 के छात्रों के एडमिट कार्ड पर लग सकती है रोक, यहाँ जाने बोर्ड ने क्या जानकारी दी

बिहार बोर्ड इंटर और मैट्रिक परीक्षा 2022 के छात्रों के एडमिट कार्ड पर लग सकती है रोक, यहाँ जाने बोर्ड ने क्या जानकारी दी

BSEB 2022 ADMIT CARD : बिहार बोर्ड इंटर और मैट्रिक के रजिस्ट्रेशन शुल्क और परीक्षा फॉर्म शुल्क जमा नहीं करने वाले स्टूडेंट्स का Admit card...