AddText 05 14 09.41.29

Bihar University M.Phil Exam : पूरे राज्य में पहली और अंतिम बार 10 से 12 नवंबर तक होगी M.Phil की परीक्षा, इस दिन जारी होगा रिजल्ट, यहां जाने पूरी डिटेल्स

Bihar University M.Phil Exam Date : पूरे राज्य में पहली और अंतिम बार एमफिल की परीक्षा बिहार यूनिवर्सिटी में होने जा रही है।

रेगुलेशन पास न होने के कारण परीक्षा लटक गई थी

इसी यूनिवर्सिटी में छह साल पहले एमफिल की पढ़ाई शुरू की गई थी। रेगुलेशन पास न होने के कारण परीक्षा लटक गई थी। लंबित परीक्षा इस महीने होगी।

30 नवंबर तक रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा

M.Phil Exam Date परीक्षा 10 से 12 नवंबर तक होगी और 30 नवंबर तक रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा। विश्वविद्यालय के डिस्टेंस से लंबित एमफिल की इस परीक्षा को लेकर छात्र चिंता में थे।

प्रशासनिक अधिकारी डॉ. ललन कुमार ने बताया

डिस्टेंस के प्रशासनिक अधिकारी डॉ. ललन कुमार ने बताया कि एमफिल में 1600 छात्र शामिल होंगे। 1036 छात्रों ने फॉर्म भर दिया है। दो नवंबर तक फॉर्म भरने की तारीख बढ़ा दी है। एमफिल की यह परीक्षा सत्र 2014-15 और 2015-16 की है। रेगुलेशन पास नहीं होने से परीक्षा अटक गई थी।

ये भी पढ़ें BRABU UG PG Admission: UG में 60 तो PG में डेढ़ हजार सीटों पर इस तिथि से होगा OnSpot नामांकन, यहां जाने कब जारी होगा Official नोटिस

वर्ष 2013 में विवि के तत्कालीन कुलपति प्रो. पंडित पलांडे ने कोर्स शुरू किया

वर्ष 2013 में विवि के तत्कालीन कुलपति प्रो. पंडित पलांडे ने डिस्टेंस में एमफिल कोर्स शुरू किया था।प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि एमफिल पास करने वाले 1600 छात्र बिना पैट दिए पीएचडी में दाखिला ले सकेंगे और उन्हें कोई कोर्स वर्क भी नहीं करना होगा।

विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार प्रो. राम कृष्ण ठाकुर ने बताया कि एमफिल के छात्रों को पीएचडी में वरीयता दी जाएगी। बताया कि बीआरएबीयू में एक बार के लिए ही एमफिल की मान्यता है। इसके बाद एमफिल में कोई दाखिला नहीं होना है। Bihar University M.Phil Exam Date

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश से हो रही है परीक्षा

यूनिवर्सिटी में एमफिल की परीक्षा सुप्रीम कोर्ट के निर्देश से हो रही है। वर्ष 2018 में एमफिल के विद्यार्थियों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने राजभवन और विवि को एमफिल के छात्रों की परीक्षा लेने का निर्देश दिया था।

परीक्षा नहीं होने पर विद्यार्थियों ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी। पटना हाईकोर्ट ने विद्यार्थियों के हक में फैसला दिया। इसके बाद राजभवन की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में अपील की गई।

परीक्षा फॉर्म समेत अन्य सभी अपडेट के लिए Join करे

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click Here

Follow On Google News – Click on Star 🌟

Join WhatsApp – Click Here

आदेश के बाद भी चार वर्ष अटकी रही परीक्षा

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वर्ष 2018 में तत्कालीन विवि प्रशासन ने एमफिल को डिस्टेंस से विभागों में शिफ्ट कर दिया व विद्यार्थियों को डिसटेंशन जमा करने को कहा। लेकिन, इसके बाद मामला फिर अटक गया।

पिछले दिनों राजभवन के निर्देश के बाद परीक्षा लेने की तारीख जारी की गई। डिस्टेंस के प्रशासनिक अधिकारी डॉ. कुमार ने बताया कि दिसंबर में डिस्टेंस से लंबित पीजी की परीक्षाएं भी करा ली जाएंगी।

ये भी पढ़ें Bihar University Exam 2022 : इस महीने होंगी BBA, BCA सहित कई परीक्षाएं, यहां जाने कब जारी होगा परीक्षा शेड्यूल और एडमिट कार्ड

असिस्टेंट प्रोफेसर में मिलेंगे दो प्वाइंट

प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि पीएचडी में सीधे दाखिला होने के बाद एमफिल करने वाले विद्यार्थियों को असिसटेंट प्रोफेसर की भर्ती में भी दो प्वाइंट मिलेंगे।

एमफिल पास करने वाले विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय चयन आयोग की तरफ से होने वाली भर्ती और बिहार से बाहर होने वाली भर्तियों में लाभ मिलेगा। एमफिल को यूजीसी ने अपने नये रेगुलेशन के ड्राफ्ट में भी मान्यता दे दी है।

Scroll to Top