BREAKING : बिहार में जोरदार कोरोना विस्‍फोट 24 घंटे में नए संक्रमित मिले

BREAKING : बिहार में जोरदार कोरोना विस्‍फोट 24 घंटे में नए संक्रमित मिले

बिहार में सोमवार को 11,407 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई। पटना सहित छह जिलो में 500 से अधिक नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई। पटना में सर्वाधिक 2028 नए संक्रमित मिले। जबकि वैशाली में 1035, गया में 662, मुजफ्फरपुर में 653, पश्चिमी चंपारण में 549 और बेगूसराय में 510 नए कोरोना संक्रमित मिले। पिछले 24 घंटे में राज्य में 72,658 सैम्पल की कोरोना जांच की गई। Strong corona blasts in Bihar

वहीं दूसरी ओर आपदा के इस दौर में स्वास्थ्य विभाग, पुलिस-प्रशासन के अलावा नगर निकायों की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। इन दिनों सबसे जरूरी काम है सेनेटाइजेशन और फॉगिंग का। मगर पटना सहित तमाम शहरी निकायों में इसकी गति बहुत धीमी है। इस संबंध में पता चला कि पटना सहित विभिन्न निकायों में सेनेटाइजेशन का काम बहुत धीमा है। कई निकायों में मशीनें भी ठीक नहीं हैं।

पटना की बात करें तो हालात बहुत अच्छे नहीं हैं। संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है। जिन इलाकों में संक्रमित मिल रहे हैं, वहां भी सेनेटाइजेशन नहीं हो पा रहा। कंकड़बाग इलाके में एक परिवार के तीन सदस्य संक्रमित थे। उनके पास नगर निगम की ओर से सेनेटाइजेशन के लिए 18 दिन बाद तब फोन आया, जब उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी थी। वो भी पता पूछने के बाद यह कहकर फोन रख दिया कि आपका घर हमारे वार्ड में नहीं आता।

राज्यपाल फागू चौहान ने सोमवार को आईजीआईएमएस जाकर कोरोना से बचाव हेतु टीकाकरण की दूसरी खुराक ली-

टीकाकरण के पश्चात वह चिकित्सकों एवं विशेषज्ञों की निगरानी में आधा घंटा तक अस्पताल में ही रुके।

राज्यपाल ने कहा कि टीकाकरण की दूसरी खुराक लेने के बाद उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई। उन्होंने राज्यवासियों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने एवं प्रावधान के अनुसार टीका लगवाने की अपील की। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोविड-19 से बचाव हेतु सभी प्रयास किये जा रहे है।

यही नहीं पटना में बेली रोड, डाक बंगला, वीरचंद पटेल पथ, दरोगा राय पथ, ईको पार्क सहित वीआईपी इलाकों में मशीन लगी गाड़ियों के जरिए सफाई कराई जाती थी। आजकल वो सिलसिला भी बंद है।

दरोगा राय पथ में रहने वाले राजेश कुमार बताते हैं कि अब काफी समय से सड़कों की मशीन से सफाई नहीं हो रही। उन्होंने बताया कि एक दिन फॉगिंग जरूर हुई थी, वो भी सतही तौर पर।

पड़ताल में पता चला कि सेनेटाइजेशन की गति तमाम शहरी निकायों में काफी धीमी है। फॉगिंग भी सभी इलाकों में न होने की शिकायतें मिल रही हैं। राज्य के सभी 3668 वार्डों में सेनेटाइजेशन और फॉगिंग के लिए कितनी मशीनें लगी हैं या कितनी खराब हैं, इसका आंकड़ा मुख्यालय स्तर पर उपलब्ध नहीं है। Strong corona blasts in Bihar

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

Twin Tower videos: ताश के पत्तों की तरह ढह गया नोएडा का ट्विन टावर, देखिए कैसे आसमान तक उठा धूल का गुबार

Twin Tower videos: ताश के पत्तों की तरह ढह गया नोएडा का ट्विन टावर, देखिए कैसे आसमान तक उठा धूल का गुबार

Twin Towers Videos: नोएडा के सेक्टर 93 ए में स्थित ट्विन टावर्स अब इतिहास बन गए हैं। धमाके के साथ दोनों इमारतों को गिरा दिया...