UPSC Pre Exam 2021 Paper Analysis : UPSC प्रारंभिक परीक्षा पिछले सालों की तुलना में प्रश्नपत्र का ट्रेंड थोड़ा अलग , करेंट अफेयर्स ने छात्रों को छकाया

UPSC Pre Exam 2021 Paper Analysis : UPSC प्रारंभिक परीक्षा पिछले सालों की तुलना में प्रश्नपत्र का ट्रेंड थोड़ा अलग , करेंट अफेयर्स ने छात्रों को छकाया

UPSC Pre Exam 2021: सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा में करेंट अफेयर्स (समसामयिक घटनाचक्र) ने रविवार को प्रतियोगी छात्रों को छकाया। पिछले सालों की तुलना में प्रश्नपत्र का ट्रेंड थोड़ा अलग था। जो लोग करेंट अफेयर्स में रटकर पहुंचे थे उन्हें निराशा हाथ लगी। विशेषज्ञों की मानें तो पेपर में परंपरागत टॉपिक को समसामयिक घटनाओं से जोड़कर पूछा गया था।

सुबह 9:30 से 11:30 बजे की पहली पाली में सामान्य अध्ययन के पेपर में इतिहास से 20 प्रश्न, अर्थव्यवस्था से 15 प्रश्न, भारतीय राजव्यवस्था से 15-16 प्रश्न, पर्यावरण एवं भूगोल से करीब 25 से 30 प्रश्न रहे। वहीं सामान्य विज्ञान से 11-12 प्रश्न पूछे गए। विज्ञान के प्रश्न संभावना के अनुरूप वैक्सीन, स्वास्थ्य से जोड़कर पूछे गए।

गणित और रीजनिंग सामान्य स्तर की रही

सीसैट के पेपर में पैराग्राफ थोड़े बड़े लेकिन सिंगल प्रश्न आधारित थे जो सामान्यतः समय अधिक लेते हैं। गणित और रीजनिंग सामान्य स्तर की रही। हालांकि जिन्होंने अभ्यास किया था और टाइम मैनेजमेंट कर सके उन्हीं का पेपर अच्छा हुआ।

UGC Scholarship: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की तरफ से कॉलेज छात्रों को मिलेगा 36,200 रुपए तक का स्टाइपेंड, यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन

क्या कहते हैं विशेषज्ञ
प्रश्नों का विश्लेषण अगर किया जाए तो पिछले वर्षो की अपेक्षा इस बार का ट्रेंड भिन्न था। प्रश्न सीधे न पूछकर घुमाकर पूछे गए। इस बार एक बात यह सिद्ध हुई कि बच्चों के लिए इंटरनेट से पढ़ाई एक आवश्यक अंग बन गयी है। (नीरज सिंह, प्रबंध निदेशक जीएस वर्ल्ड)

पिछले कुछ सालों से यूपीएससी पेपर का पैटर्न बदल रहा है। इस साल का पेपर कुछ कठिन था विशेषकर इतिहास के प्रश्न। विज्ञान और भूगोल के प्रश्न भी कठिन थे। (सिद्धार्थ श्रीवास्तव, प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित पुस्तकों के लेखक)

बिहार यूनिवर्सिटी के कॉलेजों में गेस्ट शिक्षकों की दो सौ से अधिक रिक्तियां, जाने अभ्यर्थियों को कब आवेदन के लिए आमंत्रित किया जायेगा

प्रथम प्रश्नपत्र में पूछे गए कुछ प्रश्न

ब्लू कॉर्बन क्या है
जल किसी अन्य द्रव्य की अपेक्षा अधिक पदार्थों को घोल सकता है क्योंकि

भारत के संविधान के किस अनुच्छेद के अंतर्गत निजता का अधिकार संरक्षित है
सांविधानिक सरकार का आशय क्या है

भारतीय संविधान के अंतर्गत धन का केंद्रीकरण किसका उल्लंघन करता है
भारत में संपत्ति के अधिकार की क्या स्थिति है

26 जनवरी 1950 को भारत की वास्तविक सांविधानिक स्थिति क्या थी
भारत के संदर्भ में ‘हल्बी, हो और कुई’ पद किससे संबंधित है

बिहार सरकार दे रही हैं इंटर पास युवाओं को 1 हजार रुपये प्रतिमाह , यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन

48.36 प्रतिशत छात्र परीक्षा में सम्मलित हुए

सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा रविवार को जिले के 93 केंद्रों पर हुई। डीएम संजय कुमार खत्री और डीआईजी/एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी भी घूम-घूमकर परीक्षा केंद्रों का जायजा लेते रहे। दोनों अफसरों ने रानी रेवती देवी इंटर कॉलेज, सीएवी, आर्य कन्या, फूलपती इंटर कॉलेज सहित अन्य परीक्षा केंद्रों का भम्रण कर परीक्षा संचालन का जायजा लिया।

BSEB Scholarship : इंटर पास छात्राओं के खाते में जल्द जारी की जाएगी मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की राशि, यहाँ जाने जाने कब जारी होगी राशि

मास्क के बगैर प्रवेश नहीं दिया जा रहा था

एडीएम (सिटी) मदन कुमार ने बताया कि कुल पंजीकृत 39,397 परीक्षार्थियों में पहली पाली में 19126 तथा दूसरी पाली में 18975 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए। दोनों पालियों को मिलाकर कुल 48.36 प्रतिशत छात्र परीक्षा में शामिल हुए। केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग की समुचित व्यवस्था रही और मास्क के बगैर प्रवेश नहीं दिया जा रहा था।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BSEB Scholarship : इंटर पास छात्राओं के लिए बड़ी खुशखबरी, अकाउंट में जल्द आएंगे 25-25 हजार रुपये, यहाँ जाने लेटेस्ट अपडेट

BPSC 67th PT Result Date: जानें कब तक जारी होगा BPSC 67वीं की प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट, यहां जाने संभावित तिथि

BPSC 67th PT Result Date: जानें कब तक जारी होगा BPSC 67वीं की प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट, यहां जाने संभावित तिथि

BPSC 67th PT Result Date 2022 : बिहार लोक सेवा आयोग BPSC की 67वीं प्रारंभिक (PT) परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई। इस परीक्षा में...