UGC का बड़ा फैसला : असिस्टेंट प्रोफ़ेसर के लिए अब Ph.D. की आवश्यकता नहीं ,UGC ने जारी किया गाइड लाइन 

UGC का बड़ा फैसला : असिस्टेंट प्रोफ़ेसर के लिए अब Ph.D. की आवश्यकता नहीं ,UGC ने जारी किया गाइड लाइन 

UGC Assistan Professor Recruitment 2021: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीजी) ने विश्वविद्यालयों के विभागों में सहायक आचार्य (Assistan Professor) भर्ती के लिए पीएचडी उपाधि की अनिवार्यता की डेट बढ़ा दी है। यूजीजी की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, 01 जुलाई 2023 से किसी भी विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए पीएचडी उपाधि अनिवार्य होगी।

पीएचडी योग्यता अनिवार्य करने की घोषणा की

यानी 01 जुलाई 2023 से पहले असिस्टेंट प्रोफसर भर्ती के लिए पीएचडी की अनिवार्यता नहीं रहेगी। यूजीसी नेट पास अभ्यर्थी बिना पीएचडी के ही असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए आवेदन कर सकेंगे।

बिहार यूनिवर्सिटी में फिर होगी अतिथि शिक्षकों की बहाली, योग्य उम्मीदवार जल्द करें ऑनलाइन आवेदन

इससे पहले यूजीसी ने 01-07-2021 के बाद जारी होने वाले भर्ती विज्ञापनों में पीएचडी योग्यता अनिवार्य करने की घोषणा की थी। लेकिन अब पीएचडी की अनिवार्यता डेट बढ़ाकर 01 जुलाई 2023 कर दी गई है।

नियुक्ति के लिए न्यूनतम योग्यता

यूजीसी ने पीएचडी के लिए आवेदन करने की तिथि बढ़ाई विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में शिक्षकों और अन्य शैक्षणिक कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए न्यूनतम योग्यता के अनुसार 01.07.2021 से 01.07.2023 तक विश्वविद्यालयों के विभागों में सहायक प्रोफेसरों की सीधी भर्ती के लिए अनिवार्य योग्यता और उच्च शिक्षा में मानकों के रखरखाव के उपाय), संशोधन विनियमन, 2021

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना, साइकिल योजना समेत विभिन्न योजनाओं के तहत छात्राओं के लिए ₹9.47 अरब रुपये की राशि जारी

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अनुसार, यह आदेश यूनिवर्सिटीज और कॉलेजों में उच्च शिक्षा का स्तर बनाए रखने के लिए अमेंडमेंट रेगुलेशन 2021 के तहत है।

BSEB Scholarship : BSEB 12th स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू, यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here