बिहार यूनिवर्सिटी के स्नातक और पीजी नामांकन में होने जा रहा बड़ा बदलाव, आवेदन के वक्त जिला चुनने का मिलेगा मौका

बिहार यूनिवर्सिटी के स्नातक और पीजी नामांकन में होने जा रहा बड़ा बदलाव, आवेदन के वक्त जिला चुनने का मिलेगा मौका

BRABU UG & PG Admission: बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी में स्नातक और पीजी दाखिले में आवेदन का पैटर्न मे बड़ा बदलाव। अब आवेदन के वक्त छात्रों से पूछा जाएगा कि वह किस जिले में पढ़ना चाहते हैं। इसके बाद वह दाखिले का विकल्प चुन सकेंगे। इस वर्ष स्नातक में सीटें खाली रह जाने और शहर के ही पांच से छह कॉलेजों में ज्यादा आवेदन होने के बाद विवि प्रशासन आवेदन की प्रक्रिया में बदलाव करने जा रहा है।

कॉलेजों में सीटें खाली रहने पर विवि प्रशासन एडमिशन पोर्टल पर करने जा रहा है बदलाव

इस वर्ष शहर के कुछ कॉलेजों में 80 प्रतिशत तक आवेदन हुए। इससे बाकी जिलों के कॉलेज व संबद्ध कॉलेजों में सीटें खाली रह गयीं। 70 हजार सीटें इस वर्ष स्नातक में खाली रह गयीं। बिहार यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार प्रो. राम कृष्ण ठाकुर ने बताया कि छात्रों को अपने जिला और दूसरे जिले में पढ़ने का विकल्प आवेदन के वक्त ही चुनना होगा। इससे छात्र स्पष्ट रहेंगे कि उन्हें कहां दाखिला लेना है। इससे कॉलेजों में सीटें खाली होने की समस्या नहीं रहेगी। इस पर काम कर रहे हैं।

स्नातक सत्र 2019-22 पार्ट वन की 5 और 6 नवंबर की परीक्षा स्थगित, जाने कब तक जारी होगी नई तिथि

पिछले वर्ष भी आयी थी परेशानी : पिछले वर्ष भी यह परेशानी सामने आयी थी। कई छात्रों के फॉर्म ऐसे विषय में भर दिए गए थे जो इंटर में उनके विषय ही नहीं थे। आर्ट्स के छात्रों का फॉर्म बीएससी के लिए भर दिया गया था। इसके बाद यूनिवर्सिटी के यूएमआइएस विभाग ने छात्रों को एडिट का ऑप्शन देकर विषय बदलवाया। करीब पांच हजार छात्रों ने गलत विषय भर दिये थे। मेरिट लिस्ट निकालने के समय हुई जांच के बाद यह मामला सामने आया था।

शहर के कॉलेजों के लिए आए ज्यादा आवेदन

शहर के आरडीएस, एलएस, एमडीडीएम, आरबीबीएम, और एमपी सिन्हां साइंस कॉलेज में नामांकन के लिए ही 80 प्रतिशत आवेदन आए विवि प्रशासन ने इसका कारण छात्रों की उदासीनता और साइबर कैफे की गड़बड़ी को बताया। विवि के एक अधिकारी ने बताया कि दूर दराज से आये छात्र साइबर कैफे गये और स्नातक में आवेदन करने को कहा। साइबर कैफे संचालक ने शहर के ही कॉलेजों में आवेदन कर दिया। इससे दूसरे कॉलेजों में आवेदन ही नहीं हो सके। छात्रों को नहीं पता चला कि उनका आवेदन सिर्फ शहर के ही कॉलेजों में किया गया है।

बिहार के सभी यूनिवर्सिटी में अब मातृभाषा भाषा में पढ़ाई जायेगी फिजिक्स और केमेस्ट्री ,जाने UGC के निर्देश

BRABU UG & PG Admission: सीट नहीं भरने से तीन दिन के लिए खोलना पड़ा पोर्टल

स्नातक में सीटें नहीं भरने से विवि प्रशासन को तीन दिन के लिए फिर से स्नातक में आवेदन करने के लिए पोर्टल खोलना पड़ा। इस बार 6700 आवेदन आये। लेकिन, आवेदन फिर से शहर के ही कॉलेजों के लिए किए गए। पोर्टल पर एडिट का ऑप्शन दिया गया। 2200 छात्रों ने इसका उपयोग करते हुए विषय तो बदला, लेकिन अपना कॉलेज नहीं बदला। यूनिवर्सिटी का कहना है कि छात्र जब तक खुद से अपना फॉर्म नहीं भरेंगे, यह गलती होती रहेगी। बिहार विवि में इस बार 101 कॉलेजों में दाखिला होना है। स्नातक में दाखिले के लिए एक लाख 56 हजार सीटें हैं।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

53600 स्नातक उत्तीर्ण छात्राओं को प्रोत्साहन राशि जनवरी तक, यहाँ जाने कौन कौन से सत्र की छात्राओं को जारी की जाएगी राशि

BRABU UG PG Admission: स्नातक और पीजी में खाली सीटों पर नामांकन के लिए इस दिन खुलेगा आवेदन पोर्टल, कुलपति के पास भेजी गई फाइल

BRABU UG PG Admission: स्नातक और पीजी में खाली सीटों पर नामांकन के लिए इस दिन खुलेगा आवेदन पोर्टल, कुलपति के पास भेजी गई फाइल

BRABU UG & PG Admission 2022 : बिहार यूनिवर्सिटी पीजी की खाली पड़ी सीटों को भरने के लिए फिर से पोर्टल खोलेगा। इसकी जानकारी यूएमआईएस...