बिहार यूनिवर्सिटी में भी काम कर रही संदिग्ध एजेंसी,अब तक पांच करोड़ रुपये का भुगतान, यहाँ पढ़े पूरी ख़बर

बिहार यूनिवर्सिटी में भी काम कर रही संदिग्ध एजेंसी,अब तक पांच करोड़ रुपये का भुगतान, यहाँ पढ़े पूरी ख़बर

निगरानी की कार्रवाई की जद में आयी मगध विवि की संदिग्ध एजेंसी बिहार यूनिवर्सिटी में भी काम कर रही है। यहां इस एजेंसी को प्रिंटिंग से लेकर पुराने टेबुलेशन रजिस्टर (टीआर) को ठीक करने की जिम्मेदारी दी गई है। एजेंसी से परीक्षा में भी काम करवाया जा रहा है। एजेंसी विवि की सुरक्षा फीचर युक्त डिग्री भी बना रही है।

अब तक पांच करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका

बिहार यूनिवर्सिटी में पिछले एक वर्ष से यह एजेंसी काम कर रही है। निगरानी ने मगध यूनिवर्सिटी के कुलपति, पीए और इस एजेंसी का नाम भी कार्रवाई की लिस्ट में रखा है। काम के एवज में इस एजेंसी को अब तक पांच करोड़ रुपये का भुगतान बिहार यूनिवर्सिटी की ओर से किया जा चुका है।

यह भी पढ़े: BSEB Scholarship : इंटर पास छात्राओं के खाते में जल्द जारी की जाएगी मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की राशि, यहाँ जाने जाने कब जारी होगी राशि : Zee Bihar

बिहार यूनिवर्सिटी में भी एजेंसी का काम करना चर्चा का विषय बना हुआ

कंपनी और बिहार यूनिवर्सिटी के बीच 27 अगस्त 2020 को करार किया गया था। करार के दौरान कंपनी के साथ शर्त रखी गयी थी कि वह गुणवत्ता पूर्ण काम करेगी और तय समय में काम करके देगी। मगध यूनिवर्सिटी के कुलपति के यहां निगरानी की छापेमारी के बाद बिहार यूनिवर्सिटी में भी एजेंसी का काम करना चर्चा का विषय बना हुआ है। विवि से जुड़े लोगों का कहना है कि एजेंसी जब वहां दागदार हो गयी है तो यहां कैसे काम कर रही है।

कुलपति ने कहा

बिहार यूनिवर्सिटी में काम करने वाली एजेंसी के कार्य में अगर कोई गलती पायी गयी तो उस पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। विवि प्रशासन इस दिशा में कदम उठाने से पीछे नहीं हटेगा।

-प्रो. हनुमान प्रसाद पांडेय, कुलपति, (बिहार यूनिवर्सिटी)

यह भी पढ़े: Post Matric Scholarship Bihar: ऑनलाइन आवेदन की तिथि 30 नवंबर तक बढ़ी, छात्र-छात्राएं यहाँ से करें अप्लाई

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

4 साल से इंतजार कर रहे 4.5 लाख छात्रों को मिलेगी डिग्री, राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद यूनिवर्सिटी ने जारी की अधिसूचना

बिहार यूनिवर्सिटी के पांच लाख से अधिक विद्यार्थियों को डिग्री देने के लिए मंजूरी मिल गई है। राजभवन की ओर से इसको लेकर स्वीकृति मिलने...