पीएचडी एडमिशन टेस्ट (पैट) 2020 छह केंद्रों पर निगरानी के लिए तैयार की गयी उड़न दस्ता की दो टीम, यहाँ जाने यूनिवर्सिटी प्रशासन की क्या है तैयारी

पीएचडी एडमिशन टेस्ट (पैट) 2020 छह केंद्रों पर निगरानी के लिए तैयार की गयी उड़न दस्ता की दो टीम, यहाँ जाने यूनिवर्सिटी प्रशासन की क्या है तैयारी

पीएचडी एडमिशन टेस्ट (पैट) 2020 की निगरानी के लिए विवि प्रशासन ने तैयारी कर ली गयी है. सभी केंद्रों पर ऑब्जर्वर की नियुक्ति की जायेगी, जबकि दो उड़न दस्ता भी चक्रमण करते रहेंगे. बीआरए बिहार विवि की ओर से 25 अगस्त को पैट का आयोजन किया जा रहा है. इसके लिए शहर में छह केंद्र बनाये गये हैं.

सभी केंद्रों पर ऑब्जर्वर नियुक्त किये जायेंगे

सुबह 11 बजे से दोपहर 2.15 बजे तक परीक्षा होगी, दो पेपर के 1 बीच 15 मिनट का ब्रेक दिया गया है. कदाचारमुक्त परीक्षा कराने के लिए सभी केंद्राधीक्षकों को विवि की ओर से निर्देश 1 दिया गया है. इसके अलावा विवि के स्तर से भी इंतजाम किया जा रहा है. सभी केंद्रों पर ऑब्जर्वर नियुक्त किये जायेंगे. पैट को-ऑर्डिनेटर डॉ प्रमोद कुमार ने बताया कि तीन केंद्रों पर पांच सौ से अधिक परीक्षार्थी है.

सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रशासन की ओर से इंतजाम किया

विश्वविद्यालय परीक्षा भवन, एलएस कॉलेज व आरडीएस कॉलेज इन केंद्रों पर दो-दो ऑब्जर्वर रहेंगे, वहीं पांच सौ से कम परीक्षार्थी वाले केंद्र एमडीडीम कॉलेज, आरबीबीएम कॉलेज व एलएनटी कॉलेज पर एक-एक ऑब्जर्वर की नियुक्ति की गयी है. बताया कि दो उड़न दस्ता भी तैयार किया गया है, जिनके जिम्मे तीन-तीन केंद्रों की निगरानी रहेगी. इसके अलावा सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रशासन की ओर से इंतजाम किया जायेगा.

करीब 1400 सीट के लिए 4390 दावेदार

विवि ने 26 विषयों में करीब 1400 सीटों के लिए आवेदन लिया है. मुजफ्फरपुर सहित छह जिलों के 4390 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है. मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर सीतामढ़ी व वैशाली जिले में स्थित कॉलेजों के साथ ही पीजी विभाग में कार्यरत शिक्षकों के अंडर में रिसर्च के लिए परीक्षा करायी जा रही है. यह परीक्षा वर्ष 2020 की है. विवि की ओर से कहा गया है कि 2021 में सीट निर्धारित कर अक्टूबर तक पैट 2021 का आयोजन कराया जायेगा.

बारिश व बाढ़ के कारण पैट की तिथि बढ़ाने की मांग

बीआरए बिहार विवि में चार महीने बाद हो रही पैट की तिथि आगे बढ़ाने की मांग छात्रों ने की है, उनका कहना है कि बारिश और बाद से मुजफ्फरपुर सहित उत्तर बिहार के सभी जिले प्रभावित हैं, ऐसे समय में परीक्षा कराना ठीक नहीं होगा. छात्र हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता सह विश्वविद्यालय अध्यक्ष संकेत मिश्रा ने कहा कि मुजफ्फरपुर समेत पूरा उत्तर बिहार बरसात व बाढ़ की चपेट में है. ऐसे में अभी पीएचडी की प्रवेश परीक्षा आयोजित कराना उचित नहीं है. विश्वविद्यालय प्रशासन इसे तत्काल स्थगित कर परीक्षा की तिथि आगे बढ़ाए, जिससे सभी छात्र इसमें शामिल हो सकें.

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BRABU PG 2nd Semester Exam : कल से शुरू होगी पीजी 2nd सेमेस्टर की परीक्षा, 5 हजार परीक्षार्थी होंगे शामिल

BRABU PG 2nd Semester Exam : कल से शुरू होगी पीजी 2nd सेमेस्टर की परीक्षा, 5 हजार परीक्षार्थी होंगे शामिल

BRABU PG 2nd SEMESTER EXAM : कल से शुरू होगी पीजी सेकेंड सेमेस्टर की परीक्षा। बिहार यूनिवर्सिटी की ओर से परीक्षा का शिड्यूल जारी कर...