बिहार यूनिवर्सिटी में नए डीओ ने दिया योगदान, राजभवन और विश्वविद्यालय के दिशा-निर्देश में विकास का रोड मैप जल्द तैयार किया जाएगा

बिहार यूनिवर्सिटी में नए डीओ ने दिया योगदान, राजभवन और विश्वविद्यालय के दिशा-निर्देश में विकास का रोड मैप जल्द तैयार किया जाएगा

बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी के नये विकास अधिकारी (डीओ) डॉ. पंकज कुमार ने सोमवार को योगदान दे दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कुलपति ने उन्हें जो जिम्मेवारी सौंपी है, वह उसे ईमानदारी के साथ निभाने की पूरी कोशिश करेंगे। विश्वविद्यालय और सभी कॉलेजों के विकास के लिए राज्य सरकार, राजभवन और विश्वविद्यालय के दिशा-निर्देश के आलोक में विकास का रोड मैप जल्द तैयार किया जाएगा।

नैक मूल्यांकन कराने के लिए कॉलेज से आधारभूत संरचना के विकास का प्रस्ताव

नैक की तैयारी को ध्यान में रखते हुए जल्द ही रूपरेखा तय की जाएगी। रूसा से आवंटित राशि का सही वितरण कर विकास कार्य में पारदर्शिता के साथ लगाया जाएगा। योगदान देने के बाद उन्होंने चकियाज कॉलेज महनार का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां आधारभूत संरचना में कमी देखी। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज का नैक मूल्यांकन नहीं हुआ है, इसलिए नैक मूल्यांकन कराने के लिए कॉलेज से आधारभूत संरचना के विकास का प्रस्ताव मांगा गया है।

पीजी तक छात्राओं को निःशुल्क शिक्षा, मगर डेवलपमेंट के नाम पर हर साल 15 करोड़ की वसूली कर रहा बिहार विश्वविद्यालय

एलएस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ओपी राय बधाई दी

उधर, उनके योगदान देने पर एलएस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ओपी राय, सीसीडीसी डॉ. अमिता शर्मा, डॉ. ललित किशोर, डॉ. वीरेंद्र चौधरी, प्रो. प्रमोद कुमार, परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार, डॉ. टीके डे ने बधाई दी है।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

बिहार यूनिवर्सिटी में डिग्री की ऑनलाइन व्यवस्था सिर्फ आवेदन करने तक सिमटी, हजारों छात्रों के आवेदन करने के बाद भी अब तक नहीं मिली डिग्री

बिहार यूनिवर्सिटी में डिग्री की ऑनलाइन व्यवस्था सिर्फ आवेदन करने तक सिमटी, हजारों छात्रों के आवेदन करने के बाद भी अब तक नहीं मिली डिग्री

बिहार यूनिवर्सिटी में डिग्री प्रोविजनल सहित अन्य डॉक्यूमेंट के लिए ऑनलाइन व्यवस्था केवल आवेदन तक ही सिमटा रह गया है, छात्रों को इसका लाभ नहीं...