स्नातक और पीजी के सत्र को पटरी पर लाना बिहार यूनिवर्सिटी के लिए बड़ी चुनौती , लंबित परीक्षाएं जल्द हर हाल में होंगी

स्नातक और पीजी के सत्र को पटरी पर लाना बिहार यूनिवर्सिटी के लिए बड़ी चुनौती , लंबित परीक्षाएं जल्द हर हाल में होंगी

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में एक साथ तीन बैच के विद्यार्थी स्नातक और पीजी में आ गए हैं। परीक्षाओं में हो रहे विलंब से छात्रों को काफी इंतजार करना पड़ रहा है। स्नातक सत्र 2019-22 और 2020 23 के प्रथम वर्ष की परीक्षा अटकी है। वहीं, सत्र 2021-24 में नामांकन के लिए आवेदन हो रहा है। इसी प्रकार पीजी में सत्र 2018-20 के तीन सत्रों की परीक्षा हुई है, लेकिन परिणाम सिर्फ एक सत्र का आया है। सत्र 2019-21 में नामांकन लेने वाले छात्र-छात्राओं की एक भी सत्र की परीक्षा अबतक नहीं हो सकी है। पीजी में वर्तमान में सत्र 2020-22 में नामांकन चल रहा है।

परीक्षाओं के विलंब होने का ये रहा कारण:

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में स्नातक सत्र 2019-22 में गलत तरीके से 25 हजार विद्यार्थियों के नामांकन से पैच फंसा है। इस सत्र का परीक्षा फार्म भरा जा रहा था। इसी दौरान मामला प्रकाश में आने के बाद संबंधित 18 कालेजों का नाम पोर्टल से हटा दिया गया। साथ ही जांच में मामला सामने आया कि इन कालेजों ने नियम से इतर आफलाइन मोड में 25 हजार विद्यार्थियों का नामांकन ले लिया है। जांच और कमेटी की रिपोर्ट के बाद इन विद्यार्थियों को अंगीभूत कालेज में शिफ्ट करना था।

नामांकित विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया ही पूरी हुई

तीन महीने बीतने के बाद भी अबतक यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है। वहीं सत्र 2020-23 में नामांकित विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया ही पूरी हुई है। पीजी का सत्र एक वर्ष विलंब से चल रहा है। ऐसे में इसी प्रकार पीजी में सत्र 2018-20 में नामांकित विद्यार्थियों के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा हुई। उसका परिणाम आ गया। इसके बाद दूसरे व तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा फरवरी-मार्च में पूरी हुई। करीब पांच महीने बीतने वाले हैं, लेकिन इसका परिणाम अबतक जारी नहीं हो सका है।

सत्र 2019-21 में नामांकित विद्यार्थियों की परीक्षा के संबंध में अबतक कोई अधिसूचना जारी नहीं हो सकी है। पीजी का सत्र इतना विलंब है कि वर्तमान में 2021-23 में नामांकन होना चाहिए था। अभी सत्र 2020-22 में ही नामांकन हो रहा है। इसे पटरी पर लाना विवि के लिए सबसे बड़ी चुनौती है।

बिहार यूनिवर्सिटी स्नातक सत्र 2021-24 के लिए 10 अगस्त तक आवेदन करने की अंतिम तिथि, जाने कब जारी होगी फर्स्ट मेरिट लिस्ट

शीघ्र जारी होगा पीजी का परिणाम

शीघ्र जारी होगा पीजी का परिणाम विवि के परीक्षा नियंत्रक डा. संजय कुमार ने कहा कि सत्र को पटरी पर लाने की दिशा में प्रयास हो रहा है। पीजी की परीक्षाओं का परिणाम शीघ्र जारी किया जाएगा। इसे तैयार करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। यदि माहौल ठीक रहा तो पिछले और वर्तमान सत्र में नामांकित पीजों के विद्यार्थियों की परीक्षाएं अगले छह महीने में कर दी जाएंगी। स्नातक की लंबित परीक्षाएं भी अक्टूबर तक हर हाल में होंगी।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BRABU : बिहार यूनिवर्सिटी के छात्र अब वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे अपना सर्टिफिकेट, यहां जानिए पूरी प्रोसेस

BRABU : बिहार यूनिवर्सिटी के छात्र अब वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे अपना सर्टिफिकेट, यहां जानिए पूरी प्रोसेस

BRABU BIHAR UNIVERSITY: बिहार यूनिवर्सिटी में छात्र अब अपने सर्टिफिकेट वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे। बिहार विवि प्रशासन इस पर विचार कर रहा है। यूनिवर्सिटी...