बीआरए बिहार विश्वविद्यालय इस साल चार लाख छात्रों की स्नातक व पीजी की प्रायोगिक परीक्षाएं नहीं, यहाँ जाने कैसे मिलेगा अंक

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय इस साल चार लाख छात्रों की स्नातक व पीजी की प्रायोगिक परीक्षाएं नहीं, यहाँ जाने कैसे मिलेगा अंक

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय इस साल स्नातक व पीजी की प्रायोगिक परीक्षाएं नहीं लेगा। कोरोना संक्रमण के कारण पिछड़े शैक्षणिक सत्र को लेकर विवि प्रशासन इस फैसले पर विचार कर रहा है। Four lakh students परीक्षाओं में लगातार हो रही देरी और परीक्षाओं की संख्या से बढ़ते दबाव के कारण आंतरिक तौर पर प्रायोगिक का अंक दिया जाएगा।

दरअसल, इस साल सिर्फ स्नातक व पीजी की हो दस ध्योरी परीक्षाओं का आयोजन होना है। इन परीक्षाओं में चार लाख छात्र शामिल होंगे। इसमें छह जिले मुफ्फरपुर, पूर्वी व पश्चिम चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर और वैशाली छात्र । इन परीक्षाओं के आयोजन में ही करीब चार महीने लग जाएगा रिजल्ट निकालने में इससे कहीं अधिक वक्त लगेगा। इधर, विवि प्रशासन ने भी कहा दिया है कि जून तक कोई परीक्षाएं नहीं ली जा सकेंगी।

बिहार यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर नई पाठ्य सामग्री अब तक अपलोड नहीं

स्थिति सामान्य होने पर भी जुलाई या इसके बाद परीक्षा शुरू की जाती हैं तो इस साल की परीक्षा अगले साल तक खींचेगी। परीक्षा नियंत्रक डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि परीक्षाओं में हो रही देरी के कारण प्रायोगिक परीक्षाएं इस बार नहीं कराई जा सकती हैं। इस पर विचार हो रहा है। वरीय अधिकारियों और विवि की निकायों से अंतिम मंजूरी के बाद इसकी घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्नातक की पांच परीक्षाएं होनी हैं। एक थ्योरी की परीक्षा में कम से कम 22 दिन का समय लगता है।

इन पांच परीक्षाओं में एक पिछले साल के स्नातक पार्ट-वन की परीक्षा भी होनी है।

इसके अलावा एक कंपार्टमेंटल और इस साल के तीनों पार्ट की परीक्षाएं। ऐसे में प्रायोगिक परीक्षाओं में काफी समय लग जाएगा। स्नातक की एक परीक्षा होने के बाद ही दूसरी परीक्षा आयोजित हो सकती हैं। स्नातक में छात्रों की संख्या अधिक होने के कारण तमाम कॉलेजों में परीक्षा केन्द्र बने होते हैं। इसके अलावा एक परीक्षा के रिजल्ट बाद ही दूसरी परीक्षा हो सकेगी। आंतरिक मूल्यांकन के आधार प्रायोगिक में अंक दिये जा सकते हैं। परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि यह किस आधार पर होगा इसपर आगे तय किया जाएगा।

पीजी की भी होनी हैं पांच परीक्षाएं

पीजी की भी पांच परीक्षाएं आयोजित होनी है। सत्र 2018-20 की फाइनल सेमेस्टर की परीक्षा होनी है। इसके अलावा सत्र 2019-21 की चार परीक्षाओं का आयोजन | होना है। इसके अलावा वोकेशनल व प्रोफेशनल की सभी परीक्षाएं इस साल होनी है।

● प्रायोगिक परीक्षा लंबी चलने से बिहार विवि कर रहा विचार

• स्थिति सामान्य हुई तो four lakh students जुलाई से परीक्षा लेने पर हो सकता विचार

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BRABU Part 1 Exam Date : 18 अक्टूबर से होगी स्नातक पार्ट-1 की परीक्षा, परीक्षा कार्यक्रम जारी, यहां जाने कब से मिलेगा एडमिट कार्ड

BRABU Part 1 Exam Date : 18 अक्टूबर से होगी स्नातक पार्ट-1 की परीक्षा, परीक्षा कार्यक्रम जारी, यहां जाने कब से मिलेगा एडमिट कार्ड

BRABU TDC Part 1 Exam Date 2022 : बिहार यूनिवर्सिटी Bihar University BRABU ने बुधवार दिनांक 05.10.22 को स्नातक सत्र 2021- 24 के पार्ट- वन...