बीआरए बिहार विश्वविद्यालय स्नातक के सभी पेपर की परीक्षा OMR SHEET पर , हफ्ते भर में रिजल्ट, यहाँ जाने क्या है पैटर्न

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय स्नातक के सभी पेपर की परीक्षा OMR SHEET पर , हफ्ते भर में रिजल्ट, यहाँ जाने क्या है पैटर्न

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय ने स्नातक पार्ट-3 की परीक्षा के लिए पैटर्न में पूरी तरह से बदलाव कर दिया है। स्नातक सत्र 2019-22 के पार्ट वन के छात्रों की ऑनर्स व सब्सिडियरी की परीक्षा ऑब्जेक्टिव ली जाएगी परीक्षा समाप्त होने के महज एक सप्ताह के अंदर रिजल्ट निकाला जाएगा।

विवि की ओर से पूरा खांका तैयार कर लिया गया

इसके लिए विवि की ओर से पूरा खांका तैयार कर लिया गया है। एक लाख से अधिक छात्रों के सभी पेपर की परीक्षा ओएमआर शीट पर ली जाएगी। बिना प्रैक्टिकल व प्रैक्टिकल के विषयों के प्रश्नपत्रों के अंक अलग-अलग होंगे

मंगलवार को बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की परीक्षा बोर्ड की बैठक में शामिल पदाधिकारी।

मंगलवार को विश्वविद्यालय के परीक्षा बोर्ड की हुई बैठक में ये फैसले लिए गए। कुलपति प्रो. हनुमान प्रसाद पाण्डेय की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई और निर्णय लिए गए। परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार ने बताया कि कोरोना के कारण परीक्षाओं में लगातार देरी हो रही है।

इस कारण फिलहाल स्नातक पार्ट-वन की परीक्षा ऑब्जेक्टिव सवालों के आधार ओएमआर शीट पर ली जाएंगी। यह भी तय हुआ कोरोना के कारण राजभवन,

राज्य सरकार व केन्द्र सरकार के दिशा निर्देश के बाद परीक्षाओं का आयोजन

राज्य सरकार व केन्द्र सरकार के दिशा निर्देश के बाद परीक्षाओं का आयोजन होगा। इस दौरान परीक्षा के लिए पूरी तैयारी कर ली जाएगी। ऑब्जेक्टिव सवालों के आधार पर पार्ट वन परीक्षा पर निर्णय हुआ। अगर इसमें सफलता मिलती है तो इसे आगे भी लागू किया जा सकता है।

दरअसल, इन छात्रों की परीक्षा पिछले साल ही हो जानी थी। लेकिन, कोरोना के कारण परीक्षा नहीं हो सकी। इन छात्रों के स्नातक पार्ट-टू की परीक्षा इसी साल होनी है और शैक्षणिक सत्र के अनुसार अगले साल पार्ट-3 की परीक्षा होनी है। विवि का कहना है कि छात्र हित को देखते हुए ये निर्णय लिये गये हैं।

सभी पेपर की परीक्षा OMR SHEET पर

हर सवाल दो अंकों के प्रैक्टिकल वाले विषय में 1.5 अंक का

स्नातक पार्ट-वन की ऑब्जेक्टिव सवालों के आधार पर परीक्षा लेने के साथ अंक भी तय कर दिए गए हैं। परीक्षा में कुल 75 सवाल पूछे जाएंगे। बिना प्रैक्टिकल व प्रैक्टिकल वाले विषयों की मार्किंग अलग-अलग होगी बिना प्रैक्टिकल वाले विषयों में 75 में 50 प्रश्नों के जवाब देने होंगे। कुल सौ अंकों पर मार्किंग की जाएगी हर सवाल दो-दो अंकों के होंगे। जबकि प्रैक्टिकल वाले विषयों में 75 सवालों में 50 के जवाब देने होंगे, लेकिन हरेक सवाल डेढ़ अंक के होंगा। 75 अंकों पर मार्किंग की जाएगी। 25 अंक प्रैक्टिकल के लिए रखा जाएगा। स्नातक पार्ट-वन में दो ऑनर्स व दो सब्सिडियरी की परीक्षा होगी।

वहीं, एमआईएल की परीक्षा पिछले साल अन्य पार्ट में ऑब्जेक्टिव ली गई थी परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि बदले हुए पैटर्न के लिए छात्रों को मॉडल प्रश्न पत्र भी दिया जाएगा। सभी विभागाध्यक्षों को इसे तैयार करने के लिए कहा जाएगा।

तीन साल से अधिक पुरानी कॉपियों को हटाया जाएगा

तीन साल से अधिक पुरानी कॉपियों को विवि से हटाया जाएगा। इसकी निलामी की जाएगी। ताकि विवि के स्टोर को खाली किया जा सके और उसमें नई परीक्षाओं की कॉपियां को रखा जा सके।

बिना प्रैक्टिकल व प्रैक्टिकल वाले विषयों के प्रश्नपत्रों में समान होगी प्रश्नों की संख्या , स्नातक पार्ट-वन के छात्रों के लिए व्यवस्था, ठीक रहा तो आगे भी होगा लागू

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

BRABU Part 1 Exam Date : 18 अक्टूबर से होगी स्नातक पार्ट-1 की परीक्षा, परीक्षा कार्यक्रम जारी, यहां जाने कब से मिलेगा एडमिट कार्ड

BRABU Part 1 Exam Date : 18 अक्टूबर से होगी स्नातक पार्ट-1 की परीक्षा, परीक्षा कार्यक्रम जारी, यहां जाने कब से मिलेगा एडमिट कार्ड

BRABU TDC Part 1 Exam Date 2022 : बिहार यूनिवर्सिटी Bihar University BRABU ने बुधवार दिनांक 05.10.22 को स्नातक सत्र 2021- 24 के पार्ट- वन...