AddText 05 05 11.21.32

BRABU : इतिहास पढ़ने में छात्रों को पीछे छोड़ रहीं छात्राएं, इस किस कारण से बढ़ रही रुचि, यहां पढ़ें विस्तार से

BRABU ADMISSION: इतिहास विषय पढ़ने में पिछले दो वर्षों से छात्राओं ने छात्रों को पीछे छोड़ दिया है। बिहार यूनिवर्सिटी में HISTORY से ऑनर्स करने के लिए छात्राओं के आवेदन छात्रों से अधिक हैं।

5938 छात्र तो 8186 छात्राओं ने किया आवेदन

इस वर्ष 5938 छात्रों ने HISTORY ऑनर्स के लिए आवेदन दिया था तो 8186 छात्राओं ने। पिछले वर्ष 10,675 छात्रों ने तो 12,113 छात्राओं ने इतिहास पढ़ने के लिए आवेदन किया था।

बॉटनी और जूलॉजी विषय में भी अधिक आए आवेदन

इतिहास के अलावा छात्राओं के आवेदन बॉटनी और जूलॉजी विषय में भी अधिक आए हैं। बॉटनी में 522 छात्राओं और जूलॉजी में 2289 छात्राओं ने आवेदन किए हैं। वहीं, इन विषयों में छात्रों की संख्या कम है। बॉटनी में 365 छात्र तो जूलॉजी में 1416 छात्रों ने आवेदन किया है।

भौतिकी, रसायन व गणित विषय में छात्र आगे

इन विषयों के अपेक्षा भौतिकी, रसायन और गणित में छात्रों का रुझान अधिक है। भौतिकी में 1759 छात्र तो 488 छात्राओं ने आवेदन किया है। रसायन में 654 छात्र तो 204 छात्राओं ने आवेदन किया है। गणित में 1238 छात्र तो 558 छात्राओं ने आवेदन किया है।

ये भी पढ़ें: Mukhyamantree Kanya Utthaan Yojana 2022 : स्नातक पास छात्राओं को ₹50000 की प्रोत्साहन राशि के लिए नए पोर्टल का ट्रायल सफल, यहां जाने कब से शुरू होगा आवेदन

प्रतियोगी परीक्षाओं के कारण बढ़ रही रुचि

छात्राओं के अधिक आवेदन पर बिहार विवि के इतिहास विभाग के अध्यक्ष प्रो. अजीत कुमार ने कहा कि लड़कियां लगातार प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल हो रही हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में इतिहास से सवाल ज्यादा आते हैं।

इतिहास वर्तमान से भी जुड़ा है। इसको पढ़ने से प्रतियोगी परीक्षा में ज्यादा लाभ मिलता है। कहा कि छात्राओं का रुझान बढ़ा है तो इसके पीछे विभाग की पढ़ाई भी एक मुख्य कारण है

गृह विज्ञान में घटा छात्राओं का रुझान

गृह विज्ञान विषय के प्रति छात्राओं का रुझान इस वर्ष कम हुआ है। पिछले वर्ष 7655 छात्राओं गृह विज्ञान ऑनर्स के लिए आवेदन किया था तो इस वर्ष 4352 ने ही आवेदन किया है। वहीं, साहित्य पढ़ने में छात्राओं की रुचि बढ़ी है।

ये भी पढ़ें: BRABU UG & PG Exam : स्नातक और पीजी का सत्र पटरी पर लाने की कोशिश हुई तेज, यहां जानिए कब किस सत्र की होगी परीक्षा

हिंदी में 3651 छात्राओं ने तो 5593 छात्राओं ने आवेदन किया

पिछले वर्ष हिंदी में 3651 छात्राओं ने तो इस वर्ष 5593 छात्राओं ने आवेदन किया है। दूसरी ओर अंग्रेजी में छात्राओं के आवेदन कम हुए हैं। पिछले वर्ष अंग्रेजी में 2292 तो इस वर्ष 1227 छात्राओं ने आवेदन किया है।

परीक्षा फॉर्म समेत अन्य सभी अपडेट के लिए Join करे

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click Here

Bihar News – Click Here

Join WhatsApp – Click Here

Scroll to Top