IMG 20220411 121226

Bihar University Recruitment: बिहार के विश्वविद्यालयों में कर्मियों के खाली पदों पर निकली बम्पर बहाली

Bihar University Recruitment : प्रदेश के पारंपरिक विश्वविद्यालयों में तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों के खाली पदों पर जल्द नियुक्ति होगी। यह नियुक्ति कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से होगी। शिक्षा विभाग ने रोस्टर क्लियर कर रिक्तियों की सूची पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश कुलसचिवों को दिया है। शिक्षा विभाग के मुताबिक विश्वविद्यालयों और अंगीभूत महाविद्यालयों में कर्मचारियों के तकरीबन साढ़े पांच हजार पद खाली हैं।

शिक्षा विभाग ने रोस्टर क्लियर कर रिक्तियों की सूची पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश कुलसचिवों को दिया. पहली बार राज्य कर्मचारी चयन आयोग से होगी नियुक्ति, विवि और अंगीभूत महाविद्यालयों में साढ़े पांच हजार पद हैं खाली.

इन विश्वविद्यालयों में होगी कर्मियों की नियुक्ति : Bihar University Recruitment

कर्मचारी चयन आयोग से राज्य के जिन विश्वविद्यालयों में कर्मचारियों की नियुक्ति होगी, उनमें पटना विश्वविद्यालय, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय, मगध विश्वविद्यालय, वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय, जय प्रकाश विश्वविद्यालय, बीआरए बिहार विश्वविद्यालय, ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, बीएन मंडल विश्वविद्यालय, पूर्णिया विश्वविद्यालय, तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय, मुंगेर विश्वविद्यालय, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय एवं मौलाना मजहरुल हक अरबी-फारसी विश्वविद्यालय शामिल हैं। इसके अतिरिक्त 250 अंगीभूत महाविद्यालयों में भी कर्मिचारियों की नियुक्ति होगी। पिछले साल अंगीभूत महाविद्यालय विहीन अनुमंडलों में भी बिहार सरकार ने 11 डिग्री कालेज खोला है जहां कर्मचारियों की नियुक्ति होगी।

सभी विश्वविद्यालयों में शैक्षणिक सत्र नियमित करने का निर्देश: Bihar University Recruitment

शिक्षा विभाग ने सभी विश्वविद्यालयों में प्रशासनिक एवं वित्तीय व्यवस्था दुरुस्त करने का आदेश दिया है। विभाग के मुताबिक सभी विश्वविद्यालयों को हर हाल में शैक्षिक सत्र को नियमित करना होगा और उच्च शिक्षा में सकल नामांकन अनुपात (जीईआर) को बढ़ावा होगा । शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के मुताबिक वर्तमान में राज्य में उच्च शिक्षा में सकल नामांकन अनुपात करीब 18 प्रतिशत है।

प्रत्येक विश्वविद्यालय का बजट साफ्टवेयर की मदद से किया जाएगा तैयार: Bihar Recruitment University

शिक्षा विभाग ने विश्वविद्यालयों में प्रशासनिक सुधार के लिए अधिकारियों को ट्रेंड करने का फैसला लिया है। विभाग के मुताबिक प्रत्येक विश्वविद्यालय का बजट साफ्टवेयर से बनेगा। विश्वविद्यालयों के बजट की मानीटरिंग भी साफ्टवेयर से होगी। शैक्षिक सत्र नियमित करने के लिए परीक्षाएं समय से होंगी। रिजल्ट भी समय से दिए जाएंगे।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click Here

Bihar News – Click Here

Join WhatsApp – Click Here

Scroll to Top