बिहार बोर्ड : परीक्षा में धांधली रोकेगा एग्जामिनेशन एप

इंटर मैट्रिक परीक्षा की एप से होगी मॉनीटरिंग

परीक्षा की एप से होगी मॉनीटरिंग

परीक्षा में धांधली :

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बिहार बोर्ड) मैट्रिक और इंटर परीक्षा-2021 की एप से निगरानी करेगा. इसके लिए 14 बोर्ड ने ‘एग्जामिनेशन एप’ विकसित किया है. इसका मकसद परीक्षा में धांधली को रोकने के साथ-साथ अन्य सूचनाएं तुरंत हासिल करना है. एप से सभी जिलों के डीइओ सहित अन्य अधिकारियों को जोड़ा गया है. इंटर की परीक्षा एक से 13 फरवरी और मैट्रिक की परीक्षा 17 से 24 फरवरी तक सभी 38 जिलों के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर होगी. तकनीकी रूप से सक्षम शिक्षकों को इससे मॉनीटरिंग करने के लिए तैनात किया जायेगा. सभी परीक्षाओं में हर केंद्र पर एक कंप्यूटर विशेषज्ञ शिक्षक नियुक्त होंगे. इन शिक्षकों की नियुक्ति डीओ ही करेंगे. इनके पास स्मार्ट फोन का रहना आवश्यक होगा. परीक्षा के समय किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना होगा. एप पर जानकारी देने से समस्या का तुरंत समाधान होगा. बिहार परीक्षा में धांधली

उतर पुरितका पट पाली और तिथि भी रहेगी अकित . उत्तरपुस्तिकाएं और ओएमआर शीट में परीक्षार्थी का नाम, रौल कोड, रौल नंबर (आरोही क्रम में), परीक्षार्थी का फोटो, विषय कोड, विषय का नाम, पाली, रजिस्ट्रेशन संख्या व तिथि अंकित रहेगी. Click here

जिले में मैट्रिक व इंटर परीक्षा में बने चार आदर्श केंद्र

जिले में मैट्रिक व इंटर परीक्षा में बने चार आदर्श केंद्र :

परीक्षा केंद्र मैट्रिक 62 इंटर 72

मुजफ्फरपुर मैट्रिक व इंटर की परीक्षा के लिए चार-चार आदर्श केंद्र बनाये गये हैं. इन केंद्रों पर सिर्फ छत्राएही परीक्षाएं देगी. मैट्रिक परीक्षा के लिए एमडीडीएमकॉलेज, आरबीबीएम कॉलेज, प्रभात तारा बालिका उवि व रीतलाल सुरदीप यादव को आदर्श केंद्र बनाया गया है. इंटर परीक्षा के लिए एमडीडीएम कॉलेज, आरबीबीएम कॉलेज, प्रभात तारा सीबीएसई ब्रांच व बीपी इंद्रप्रस्थ स्कूल मिठनपुरा को आदर्श केंद्र बनाया गया है .जिले में मैट्रिक के 74 व इंटर के 62 केंद्र बनाये गये हैं. Click here

25 तक इंटर प्रैक्टिकल परीक्षा का डाटा भेजें

25 तक इंटर प्रैक्टिकल परीक्षा का डाटा भेजें

पटना: इंटर प्रैक्टिकल परीक्षा 2021 की गोपनीय परीक्षा सामग्री सभी स्कूलों को हर हाल में 25 जनवरी तक देनी होगी. समिति ने कहा है कि 22 जनवरी तक सभी स्कूलों को प्रैक्टिकल परीक्षा से संबंधित सामग्री मांगी गयी थी, लेकिन अब तक कई स्कूलों ने सामग्री नहीं सौंपी है. बोर्ड ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिख कर कहा है कि परीक्षा सामग्री प्राप्त करने के लिए सभी जिला के लिए कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है. लेकिन, सामग्री तय समय पर नहीं सौंपी गयी है. 25 जनवरी तक प्रैक्टिकल
से संबंधित डाटा नहीं सौंपने पर उस स्कूल का रिजल्ट रोक दिया जायेगा. बिहार बोर्ड : परीक्षा में धांधली

Bihar Deled Result 2022 Link : बिहार डीएलएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट इसी हफ्ते होगा जारी, यहां चेक करें लेटेस्ट अपडेट

Bihar Deled Result 2022 Link : बिहार डीएलएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट इसी हफ्ते होगा जारी, यहां चेक करें लेटेस्ट अपडेट

Bihar DELED Result 2022 link : बिहार डीएलएड की परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB)...