Breaking News: देश में 80 करोड़ देशवासियों को अब दीवाली तक मुफ्त अनाज, पीएम मोदी बोले.. वैक्सीन पर भ्रम ना पालें

Breaking News: देश में 80 करोड़ देशवासियों को अब दीवाली तक मुफ्त अनाज, पीएम मोदी बोले.. वैक्सीन पर भ्रम ना पालें

DELHI : कोरोना का हाल की चुनौतियों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों के लिए एक और बड़ा ऐलान किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि अब गरीबों को दिवाली तक मुफ्त अनाज दिया जाएगा। सरकार किसी भी परिवार को भुखे नहीं सोने देगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि 80 करोड़ देशवासियों को सरकार की तरफ से मुफ्त अनाज मिलेगा।

गरीब कल्याण योजना के तहत भारत सरकार गरीब परिवारों को मुफ्त अनाज मुहैया कराएगी। कोरोना की पहली लहर के दौरान भी सरकार ने गरीबों को मुफ्त अनाज मुहैया कराया था और इस साल भी यह सिलसिला जारी है। दूसरी लहर का असर और व्यापक रहने वाला है। ऐसे में गरीब परिवारों को दिवाली तक के सरकार की तरफ से मुफ्त अनाज मुहैया कराया जाएगा

इसके अलावे प्रधानमंत्री मोदी ने वैक्सीनेशन को लेकर देश में पैदा हुई भ्रामक स्थिति पर चिंता जताई। पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीन को लेकर किसी तरह का भ्रम पालने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन को लेकर जो लोग इस तरह की आशंकाएं व्यक्त कर रहे हैं। दरअसल वह मानवता के साथ अन्याय कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि देशवासियों को वैक्सीनेशन कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर शामिल होना चाहिए और साथ ही साथ लोगों को इस मामले में जागरूकता भी फैलानी चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर कार्यक्रम को और रफ्तार देगी। हमने तय किया है कि इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा। जो लोग भी व्यक्ति को लेकर के भ्रामक प्रचार कर रहे हैं उनके खिलाफ जरूरत पड़ी तो एक्शन भी लिया जाएगा।

वही कोरोना काल में केंद्र और राज्य सरकारों की चुनौतियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और बड़ा एलान किया है। देश में करोड़ों वैक्सीनेशन अभियान को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने आज बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि अब देश में लोगों को मुफ्त वैक्सीन केंद्र सरकार की तरफ से दी जाएगी और राज्यों की भूमिका टीकाकरण को लेकर खत्म कर दी गई है।

पीएम मोदी ने कहा कि राज्यों की तरफ से लगातार मांग उठने के बाद हमने यह फैसला किया था कि 25 फ़ीसदी वैक्सीनेशन का काम राज्य सरकार देखें लेकिन इसमें अब आने वाली कठिनाई को देखते हुए और कई राज्य सरकारों की तरफ से हाथ खड़े किए जाने के बाद केंद्र ने यह फैसला किया है कि वैक्सीनेशन का पूरा जिम्मा अब केंद्र सरकार उठाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में सभी लोगों को कोरोनावायरस इन मुफ्त दी जाएगी अगले 2 हफ्ते में केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर इसके लिए पूरी गाइडलाइन तैयार कर लेगी और उसके बाद वैक्सीनेशन का पूरा कार्यक्रम केंद्र सरकार की निगरानी में चलेगा। 21 जून से 18 प्लस वालों को मुफ्त वैक्सीन दिया जाएगा।

केंद्र सरकार की तरफ से सबको मुक्त बैटिंग मुहैया कराई जाएगी राज्य सरकारों को इसके लिए कोई खर्च नहीं उठाना होगा केंद्र सरकार की तरफ से राज्य सरकारों को यह पहले ही बता दिया जाएगा कि उन्हें कब कोरोना की कितनी वैक्सीन उपलब्ध कराई जा रही है



पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर से हम भारतवासियों की लड़ाई जारी है। भारत भी इस लड़ाई के दौरान बड़ी पीड़ा से गुजरा है। कई लोगों ने अपने परिजनों को, परिचितों को खोया है। ऐसे सभी परिवारों के साथ मेरी संवेदना है। बीते 100 वर्षों में आई ये सबसे बड़ी महामारी है। ऐसी महामारी आधुनिक विश्व ने न देखी थी और न अनुभव की थी। इतनी बड़ी वैश्विक महामारी से हमारा देश कई मोर्चों पर एक साथ लड़ा है।

कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल और मई के महीने में भारत में मेडिकल ऑक्सीजन की डिमांड अकल्पनीय रूप से बढ़ गई थी। भारत के इतिहास में कभी भी इतनी मात्रा में मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत महसूस नहीं की गई। इस जरूरत को पूरा करने के लिए युद्धस्तर पर काम किया गया। सरकार के सभी तंत्र इसमें लगे।

पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीन हमारे लिए सुरक्षा कवच की तरह है।आज पूरे विश्व में वैक्सीन के लिए जो मांग है, उसकी तुलना में उत्पादन करने वाले देश और वैक्सीन बनाने वाली कंपनियां बहुत कम हैं। कल्पना करिए कि अभी हमारे पास भारत में बनी वैक्सीन नहीं होती तो आज भारत जैसे विशाल देश में क्या होता? आप पिछले 50-60 साल का इतिहास देखेंगे तो पता चलेगा कि भारत को विदेशों से वैक्सीन प्राप्त करने में दशकों लग जाते थे। विदेशों में वैक्सीन का काम पूरा हो जाता था तब भी हमारे देश में वैक्सीनेशन का काम शुरू नहीं हो पाता था।

पोलियो की वैक्सीन हो, चेचक की वैक्सीन हो, हेपेटाइटिस बी की वैक्सीन हो, इनके लिए देशवासियों ने दशकों तक इंतजार किया था। 2014 में जब देशवासियों ने हमें सेवा का अवसर दिया तो भारत में वैक्सीनेशन का कवरेज सिर्फ 60 प्रतिशत के आसपास था।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी दृष्टि में ये चिंता की बात थी। जिस रफ्तार से भारत का टीकाकरण चल रहा था, उस हिसाब से देश को शत-प्रतिशत टीकाकरण कवरेज का लक्ष्य हासिल करने में करीब 40 साल लग जाते। हमने इस समस्या के समाधान के लिए मिशन इंद्रधनुष को शुरु किया। हमने टीकाकरण की रफ्तार भी बढ़ाई और दायरा भी बढ़ाया। हमने बच्चों को कई जानलेवा बीमारियों से बचाने के लिए कई नए टीकों को भी भारत के टीकाकरण अभियान का हिस्सा बना दिया। क्योंकि हमें देश के बच्चों की चिंता थी, हमें गरीबों की चिंता थी।

पिछले काफी समय से देश लगातार जो प्रयास और परिश्रम कर रहा है। उससे आने वाले दिनों में वैक्सीन की सप्लाई और भी ज्यादा बढ़ने वाली है। आज देश में 7 कंपनियाँ, विभिन्न प्रकार की वैक्सीन्स का प्रॉडक्शन कर रही हैं। तीन और वैक्सीन्स का ट्रायल भी एडवांस स्टेज में चल रहा है। हमारे देश ने, वैज्ञानिकों ने ये दिखा दिया कि भारत बड़े-बड़े देशों से पीछे नही है। आज जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो देश में 23 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click here

Bihar News – Click here

Twin Tower videos: ताश के पत्तों की तरह ढह गया नोएडा का ट्विन टावर, देखिए कैसे आसमान तक उठा धूल का गुबार

Twin Tower videos: ताश के पत्तों की तरह ढह गया नोएडा का ट्विन टावर, देखिए कैसे आसमान तक उठा धूल का गुबार

Twin Towers Videos: नोएडा के सेक्टर 93 ए में स्थित ट्विन टावर्स अब इतिहास बन गए हैं। धमाके के साथ दोनों इमारतों को गिरा दिया...