BRABU : डेढ़ महीने तक चली परीक्षा, 10 दिन में रिजल्ट 20 दिन मे भी रिजल्ट सुधार नही, यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की लापरवाही की सजा भुगत रहे छात्र

BRABU : डेढ़ महीने तक चली परीक्षा, 10 दिन में रिजल्ट 20 दिन मे भी रिजल्ट सुधार नही, यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की लापरवाही की सजा भुगत रहे छात्र

BRABU : बिहार यूनिवर्सिटी के अंगीभूत व संबद्ध कॉलेजों में वर्ष 2019 में एडमिशन लेने वाले करीब सवा लाख छात्र-छात्राओं की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं, करीब साल भर देर से नवंबर 2021 में परीक्षा शुरू हुई, तो कुछ उम्मीद जगी. डेढ़ महीने में परीक्षा खत्म हुई और 10 दिन में रिजल्ट आ गयागया।

यूनिवर्सिटी की ओर से कहा जा रहा है कि सुधार की प्रक्रिया चल रही है

लेकिन रिजल्ट में हुई गड़बड़ी को सुधारने में ही अबतक 20 दिन गुजर गये हैं. यूनिवर्सिटी की ओर से कहा जा रहा है कि सुधार की प्रक्रिया चल रही है. जल्द ही सभी छात्रों का रिजल्ट वेबसाइट पर दिखने लगेगा।

ओएमआर शीट पर हुई थी परीक्षा

इन छात्रों का एडमिशन 2019 में हुआ में था. 2020 में फर्स्ट ईयर की परीक्षा होनी थी, लेकिन कोरोना के कारण पूरे साल कॉलेज बंद रहे. 2021 के शुरुआत में हालात ठीक हुए, तो यूनिवर्सिटी ने परीक्षा की तैयारी शुरू की. इस बीच अप्रैल से कोरोना की दूसरी लहर के कारण लॉकडाउन लग गया. जुलाई में जब स्थिति सामान्य हुई, तो परीक्षा की तैयारी शुरू हुई दो सत्र की पेंडिंग स्नातक पार्टी वन की परीक्षाएं ओएमआर शीट पर कराने का निर्णय लिया गया।

इस साल पूरा होना था कोर्स

स्नातक (2019-22) के छात्र अभी पार्ट वन में ही उलझे हैं, जबकि इस साल उनका कोर्स पूरा होना है. अभी रिजल्ट सुधारने के साथ मार्च से पहले पार्ट टू की परीक्षा भी करानी होगी, तभी साल के अंत तक पार्ट थर्ड की परीक्षा हो सकेगी।

पीजी कोर्स के सिलेबस में 20% तक बदलाव करेगा यूनिवर्सिटी, यहाँ पढ़े पूरी जानकारी

यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की लापरवाही की सजा भुगत रहे छात्र

स्नातक पार्ट वन के 20 हजार से अधिक छात्र यूनिवर्सिटी की लापरवाही और कॉलेज की गलती का खामियाजा भुगत रहे हैं. 15 दिसंबर तक पार्ट वन की परीक्षा चली और 25 दिसंबर को रिजल्ट जारी किया गया. इसमें प्रैक्टिकल का मार्क्स चढ़ाए बगैर ही छात्रों को प्रमोटेड बता कर वेबसाइट पर रिजल्ट जारी हो गयागया।

कॉलेजों के कहना है कि परीक्षा के बाद मार्क्स दे चुके हैं

छात्रों ने विरोध किया, तो सुधार की कवायद शुरू हुई. यूनिवर्सिटी का कहना है कि कॉलेज प्रैक्टिकल का मार्क्स देने में लापरवाही कर रहे हैं. कई कॉलेजों के कहना है कि परीक्षा के बाद मार्क्स दे चुके हैं, तो भी छात्रों को अनुपस्थित दिखा प्रमोट किया गया है।

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click Here

Bihar News – Click Here

Join WhatsApp – Click Here

BRABU UG Admission 2022 : स्नातक सत्र 2022-23 में नामांकन को लेकर आवेदन की तिथि 15 जून तक बढ़ी, यहाँ से करें आवेदन

BRABU UG Admission 2022 : स्नातक सत्र 2022-23 में नामांकन को लेकर आवेदन की तिथि 15 जून तक बढ़ी, यहाँ से करें आवेदन

BRABU UG Admission 2022: बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक सत्र 2022-23 में नामांकन को लेकर आवेदन की तिथि 15 जून तक विस्तारित कर दी...