AddText 05 05 11.21.32

BRABU: कॉलेजों की लापरवाही के कारण अटका स्नातक सत्र 2019-22 के 60 हजार छात्रों का सेकेंड ईयर का रिजल्ट, यहां जाने क्या है पूरा मामला

BRABU TDC Part 2 Result : बिहार यूनिवर्सिटी में स्नातक सत्र 2019-22 के 60 हजार से अधिक छात्रों की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं।

यूनिवर्सिटी प्रशासन की उदासीनता और कुछ कॉलेजों की लापरवाही के कारण सेकेंड ईयर का रिजल्ट अब तक जारी नहीं हो सका है। आधा दर्जन से अधिक कॉलेजों ने इंटरनल का मार्क्स परीक्षा विभाग को नहीं भेजा है. इस कारण थर्ड ईयर की परीक्षा भी समय से नहीं हो सकेगी।

परीक्षा नियंत्रक डॉ संजय कुमार ने बताया

परीक्षा नियंत्रक डॉ संजय कुमार ने बताया कि स्नातक सेकेंड ईयर की लिखित परीक्षा का रिजल्ट तैयार हो गया है, कॉलेजों से इंटरनल का अंक मिलने के बाद उसे जोड़ कर रिजल्ट जारी कर दिया जायेगा. बार-बार रिमाइंडर के बाद भी कॉलेज गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

इस कारण निर्धारित शेड्यूल के अनुसार परीक्षा कराना और रिजल्ट जारी करना मुश्किल हो रहा है. BRABU TDC Part 2 Result परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि इस स्थिति से वरीय पदाधिकारियों को भी अवगत करा दिया गया है।

फरवरी 2023 तक देना है रिजल्ट

विश्वविद्यालय ने फरवरी, 2023 तक स्नातक सत्र 2019 22 का फाइनल रिजल्ट देने की योजना तैयार की थी. राजभवन व विभाग को परीक्षा कैलेंडर भी भेजा गया है. सरकार की ओर से जुलाई 2023 तक हर हाल में सत्र नियमित करने का निर्देश है।

यह ख़बर बिल्कुल अभी आई है और इसे सबसे पहले आप zeebihar.com पर पढ़ रहे हैं। जैसे-जैसे जानकारी मिल रही है, हम इसे Update कर रहे हैं। आप हमारे साथ बने रहिए और पाइए हर सही ख़बर, सबसे पहले सिर्फ zeebihar.com पर।

ये भी पढ़ें BRABU : बड़ी खबर! स्नातक सत्र 2022-25 में अब नहीं होगा OnSpot नामांकन, यहां जाने कब जारी होगी चौथी मेरिट लिस्ट

छुट्टी के दौरान ही सेकेंड ईयर का रिजल्ट जारी करने की योजना

परीक्षा विभाग ने छठ की छुट्टी के दौरान ही सेकेंड ईयर का रिजल्ट जारी करने की योजना बनायी थी। नवंबर के पहले हफ्ते से थर्ड ईयर का परीक्षा फॉर्म भरवा कर नवंबर के अंतिम हफ्ते या दिसंबर के पहले हफ्ते से परीक्षा शुरू करानी थी. लेकिन, अबतक सेकेंड ईयर का रिजल्ट तैयार नहीं होने के कारण सारी योजना धरी रह गयी।

छुट्टी और हड़ताल से काम प्रभावित

विश्वविद्यालय का काम करीब एक महीने से लगातार छुट्टी और हड़ताल के कारण प्रभावित हो रहा है। अक्तूबर में दशहरा और दीपावली व छठ की लंबी छुट्टी के साथ ही दो दिन छात्रों ने विश्वविद्यालय बंद कराया। तीन नवंबर को विश्वविद्यालय खुला, तो एक कर्मी के निधन के कारण शोकसभा के बाद छुट्टी हो गयी।

लगातार छुट्टी से काम का बोझ बढ़ता जा रहा

चार व पांच नवंबर को कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर थे, जिससे कोई काम नहीं हो सका। छह नवंबर को रविवार की छुट्टी थी, तो सात नवंबर यानी सोमवार को भी शोकसभा के बाद विवि बंद हो गया। आठ नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा का अवकाश है। लगातार छुट्टी से काम का बोझ बढ़ता जा रहा है।

परीक्षा फॉर्म समेत अन्य सभी अपडेट के लिए Join करे

Telegram Group – Click here

Facebook Group – Click Here

Follow On Google News – Click on Star 🌟

Join WhatsApp – Click Here

Scroll to Top